सउदी अरब मे रह रहे पति ने अखबार में विज्ञापन के जरिए दे दिया पत्नी को तलाक, पुलिस मे मामला दर्ज

0
Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

हैदराबाद। पिछले कुछ समय से चल रही तीन तलाक पर गहमा-गहमी के बीच हैदराबाद से एक ऐसा अनोखा मामला सुर्ख़ियों मे आया हे जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। खबरों से मिली जानकारी के मुताबिक एक शोहर ने अपनी बीवी को अखबार में विज्ञापन के ज़रिए तलाक दे दिया।

तीन तलाक

सूत्रो के मुताबिक एनआरआई मोहम्मद मुश्ताकुद्दीन ने 2015 में 25 वर्षीय महिला से निकाह किया था| इसके कुछ समय बाद वह अपनी पत्नी को सउदी अरब ले गया, जहां पर वह काम करता था। लेकिन पिछले ही महीने दंपति अपने 10 माह के बच्चे को साथ लेकर भारत लौटा। इसके बाद मुश्ताकुद्दीन पत्नी और बच्चे को छोड़ अकेले ही सउदी अरब वापिस चला गया।

 

अब उसकी पत्नी ने मुगलपुरा थाने में लिखित शिकायत दर्ज करते हुए अपने पति पर यह आरोप लगाया हे कि मुश्ताकुद्दीन ने एक स्थानीय उर्दू अखबार में विज्ञापन के ज़रिए उसे तलाक दे दिया है। फिलहाल, पीडिता की शिकायत पर पुलिस ने मुश्ताकुद्दीन के खिलाफ उत्पीड़न और धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है|

 

इस पूरे मामले में रोशनी डालते हुए सहायक पुलिस आयुक्त एस गंगाधर ने बताया हे कि पीड़ित महिला ने अपनी शिकायत में पति मुश्ताकुद्दीन पर 20 लाख रुपये दहेज के लिए उत्पीड़न करने का भी आरोप लगाया है। महिला के दिए ब्यान के मुताबिक मुश्ताकुद्दीन के सउदी अरब लौटने के साथ ही पीडिता के ससुराल वालों ने उसे घर में घुसने से रोक दिया।

See Alsoकॉंग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने किसानों की कर्जमाफी पर किया योगी सरकार का समर्थन

बहरहाल, दो दिन पहले ही उसने एक स्थानीय उर्दू अखबार में एक विज्ञापन देखा जिसमें कहा गया है कि मुश्ताकुद्दीन ने उसे ‘तलाक’ दे दिया है। यह विज्ञापन पीड़ित महिला के पति के वकील की तरफ से दिया गया है।

 

खबरो के अनुसार, एक पुलिस अधिकारी ने बताया हे कि महिला ने इसके बाद मुश्ताकुद्दीन को फोन के जरिए संपर्क करने की भी कोशिश की लेकिन उसने फोन नहीं उठाया जिसके बाद ही उसने पुलिस मे शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस फिलहाल जांच कर रही है और साथ ही इस बात की पुष्टि करने की कोशिश कर रही हैं कि क्या शरिया क़ानून मे अखबार में विज्ञापन देकर तलाक लेने की कोई प्रक्रिया जायज है या नहीं।

 

News Source: india.com

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.
Share.

About Author

Comments are closed.